2018 राष्ट्रमंडल खेल और भारत का प्रदर्शन

पिछले एक दशक में भारत कुछ खास खेलों में बुलंदी पर पहुंचा है। हालांकि इनमें से ज्यादातर खेल निजी प्रयासों वाले हैं और सरकार की भूमिका उसमें कम है। अगर सरकार प्रयास करे तो भारत भी खेल में ताकतवर बन सकता है।

दुनिया के ताकतवर देश अपनी बड़ी आबादी या बड़े भूभाग के कारण ताकतवर नहीं बने हैं। उनको ताकतवर बनाने में जिन चीजों का योगदान है उनमें एक खेल भी है। ओलंपिक से लेकर एशियाड और कॉमनवेल्थ खेल मुकाबले तक देखें तो पदक सूची में शीर्ष पर रहने वाले देश वहीं हैं, जो दूसरे तमाम क्षेत्र में महाशक्ति हैं। अमेरिका, रूस, चीन, जापान, इंगलैंड, ऑस्ट्रेलिया आदि देश ही हर मुकाबले में पदक तालिका में शीर्ष पर होते हैं।

ये पढ़ें: क्या आपको पता है Whatsapp के भी हैं टॉप 5 फीचर्स, यूजर्स को जरूर पता होने चाहिए

दूसरे अनेक क्षेत्रों में भारत ने तेजी से कदम बढ़ाए हैं। तकनीक, अंतरिक्ष आदि क्षेत्रों में भारत दुनिया की महाशक्तियों को चुनौती दे रहा है पर खेलों में बहुत पीछे है। फिर भी पिछले एक दशक में भारत कुछ खास खेलों में बुलंदी पर पहुंचा है। हालांकि इनमें से ज्यादातर खेल निजी प्रयासों वाले हैं और सरकार की भूमिका उसमें कम है। अगर सरकार प्रयास करे तो भारत भी खेल में ताकतवर बन सकता है।

2018 राष्ट्रमण्डल खेल या 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स  एक अंतरराष्ट्रीय बहु-खेल स्पर्धा है, जो कि 4 अप्रैल से 15 अप्रैल 2018 के मध्य गोल्ड कोस्ट, क्वींसलैंड, ऑस्ट्रेलिया में आयोजित किया  गया। भारत ने गोल्ड कोस्ट में रविवार को समाप्त 21वें कॉमनवेल्थ खेलों में कुल 66 पदक अपने नाम किए। इनमें 26 स्वर्ण, 20 रजत और इतने ही कांस्य पदक हैं। भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर रहा। ऑस्ट्रेलिया कुल 198 (80 स्वर्ण, 59 रजत और 59 कांस्य) के साथ पहले और इंग्लैंड कुल 136 (45 स्वर्ण, 45 रजत और 46 कांस्य) ने दूसरा स्थान हासिल किया।

भारत का यह प्रदर्शन पिछली बार हुए ग्लासगो कॉमनवेल्थ खेलों के मुकाबले बेहतर रहा. पिछली बार भारत ने 15 स्वर्ण, 30 रजत और 19 कांस्य पदकों सहित कुल 64 पदक जीते थे.

किसने दिलाई स्वर्णिम कामयाबी:

इस बार भारत ने अपने स्वर्ण पदकों की संख्या में अच्छा-खासा इज़ाफा किया है, भारत ने कुल 26 स्वर्ण पदक जीते हैं. यह दिखाता है कि फ़ाइनल मुकाबलों में भारतीय खिलाड़ियों को ज़्यादा कामयाबी मिलने लगी है.

इन खिलाड़ियों ने भारत को गोल्ड कोस्ट में दिलाया गोल्ड:

 

जेवलिन थ्रो – नीरज चोपड़ा

बैडमिंटन– साइना नेहवाल
बैडमिंटन- टीम स्पर्धा

 

बॉक्सिंग (3)

गौरव सोलंकी- 52 किलोग्राम वर्ग

विकास कृष्णन- 75 किलोग्राम वर्ग

एम सी मैरी कॉम- 45-48 किलोग्राम वर्ग

 

निशानेबाज़ी (7)

जीतू राय- पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल

अनीश- पुरुष 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल

संजीव राजपूत- पुरुष, 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन

मनु भाकर- महिला 10 मीटर एयर पिस्टल

हीना सिद्धू- महिला 25 मीटर पिस्टल

तेजस्विनी सावंत- महिला 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन

श्रेयसी सिंह- महिला डबल ट्रैप

 

टेबल टेनिस (2)

भारतीय पुरुष और महिला टीम

मनिका बत्रा- महिला एकल

 

वेटलिफ्टिंग (5)

सतीश कुमार शिवलिंगम- पुरुष 77 किलोग्राम वर्ग

वेंकट राहुल रगला- पुरुष 85 किलोग्राम वर्ग

मीराबाई चानू – महिला, 48 किलोग्राम वर्ग

संजीता चानू- महिला, 53 किलोग्राम वर्ग

पूनम यादव- महिला, 69 किलोग्राम वर्ग

 ये पढ़ें: नाकाम बजट सत्र और उपवास

कुश्ती (5)

सुमित- पुरुष फ्रीस्टाइल 125 किलोग्राम वर्ग

राहुल अवारे- पुरुष फ्रीस्टाइल 57 किलोग्राम वर्ग

बजरंग- पुरुष फ्रीस्टाइल 65 किलोग्राम वर्ग

सुशील कुमार- पुरुष फ्रीस्टइल 74 किलोग्राम वर्ग

विनेश फोगाट- महिला फ्रीस्टाइल 50 किलोग्राम वर्ग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Coronavirus cases Update

The coronavirus COVID-19 is affecting 210 countries and territories around the world. Know updated coronavirus cases Globally and country wise.